Rakshabandhan Quotes and Poetry in Hindi

पूर्वजन्म का ऋणानुबंधन
भाई बहन के प्यार का बंधन।
रक्षासूत्र जब बाँधे बहना
बँधे आस,विश्वास का बंधन।
– Ruchi Asija


प्रीत की डोर से रची है राखी ,
तुझ जैसी ही प्यारी तेरी राखी ।।
बचपन मन में दोहरा जाए राखी ,
प्राणों की छवि बन जाए राखी ।।
सारे बरस का बेकल इंतजार राखी ,
धागे धागे में है बेकरार राखी ।।
कल का सिमटा मनुहार है राखी ,
भविष्य का रेशमी उपहार भी राखी ।।
जीवन का विश्वास मोती है राखी ,
दिल में पलती कोमल आस है राखी ।।
इतिहास के पृष्ठों पर भी थी राखी ,
हिंदू मुस्लिम भेद न जाने राखी ।।
भाई बहन को एक कर जाए राखी ,
स्नेह की मृदुल बंसी बजाए राखी ।।
– Ranjana Majumdar


राखी के ये रेशमी धागे , हैं बड़े ही खास
ढेरों दुआओं से अभिमंत्रित , भैया को खींच लाते हैं द्वार
कलाई पर सजती जब बहना की राखी
भैया खुद को पाए बड़ा ही बलशाली
भाई – बहन के अटूट रिश्ते का है ये सुन्दर त्योहार
लेकिन राखी सजे जब हर किसी के कलाई पर
सामाजिक रिश्ता बन जाए बड़ा ही बलशाली
देश बंधे एकसूत्र में , मलाल ही न रह जाए किसी के हृदय पर
प्रेम सौहार्द का फैले संदेश , अमन चैन की बंसी बजे चारों ओर ।।
– Manju Lata

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *