We need stories to | The kitchen smells like | The darkness inside me hides | Some morning, I wake up early and tell myself
|

We need stories to | The kitchen smells like | The darkness inside me hides | Some morning, I wake up early and tell myself

We need stories to | The kitchen smells like | The darkness inside me hides | Some morning, I wake up early and tell myself We need stories to recreatechildhood and cherish memories.We need stories to inspire and get inspiredwhen the time is really pressing hard,And it seems that all doorsare closed with darkness…And…At that…

अपनी ओर भी देखो | सपने पूरे होते है
|

अपनी ओर भी देखो | सपने पूरे होते है

अपनी ओर भी देखो | सपने पूरे होते है देखती हो सारी दुनिया की ओरकभी अपनी ओर भी देखो माँमाना बसा रखी है माँ तूनेअपनी दुनिया मुझमे फिर भीअपने लिए भी थोड़ा सोचो न!मेरी मुस्कुराहट में अपनी खुशियां खोज लेती हूँकभी अलग थोड़ा हँसकर देखों न!इतनी चाहत इतनी मुहब्बतआखिर कहाँ से लाती हूँसारी बलायें अपने…

कल एक झलक ज़िंदगी को देखा | कभी हार मत मानो | अकेलापन सताता है
|

कल एक झलक ज़िंदगी को देखा | कभी हार मत मानो | अकेलापन सताता है

कल एक झलक ज़िंदगी को देखा | कभी हार मत मानो | अकेलापन सताता है हसते हुए बच्चे की आखों में देखा..नन्हा सा एक ख्वाब था अनोखा।मजदूर माँ ने थाम था रखा..कल एक झलक जिंदगि को देखा।-दीपाली hasate hue bachche kee aakhon mein dekha..nanha sa ek khvaab tha anokha.majadoor maan ne thaam tha rakha..kal ek…

Visual Personality Test: Reveals Secret Weakness In Relationships
|

Visual Personality Test: Reveals Secret Weakness In Relationships

Visual Personality Test: Reveals Secret Weakness In Relationships Visual Personality Test: Reveals Secret Weakness In Relationships Your hidden relationship weakness is revealed in the first image you see in this visual personality test. It doesn’t require anything complicated like a Rorschach test to realize that dating, falling in love, and maintaining long-term relationships is not…

Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5 

Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5 

Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5  कोशिश रहे सदा अपनीदुखे न दिल कभी उनकाजिनकी हम संतान हैं।समझ न आया है कभी,कैसे कैसे पाला उन्होंनेजिनकी हम संतान हैं।-सर्वेश कुमार गुप्ता koshish rahe sada apaneedukhe na dil kabhee unakajinakee ham santaan hain.samajh na aaya hai kabhee,kaise kaise paala unhonnejinakee ham santaan hain.-sarvesh kumaar gupta धड़कन में छिपाकर…

मैं ही मैं हूँ हर जगह, माँ प्यार ये तेरा कैसा है? – Mother’s Day Poetry Prompt-4 

मैं ही मैं हूँ हर जगह, माँ प्यार ये तेरा कैसा है? – Mother’s Day Poetry Prompt-4 

मैं ही मैं हूँ हर जगह, माँ प्यार ये तेरा कैसा है? – Mother’s Day Poetry Prompt-4  मैं ही मैं हूँ हर जगहमाँ प्यार ये तेरा कैसा है।माँ ये कैसा अटूट रिश्ता है हमारा,कि तू जिधर देखती है..मैं ही मैं नज़र आता हूँ।फूलों में कलियों में..गाँव की गलियों में,हर जगह तुझे मैं हीमैं नज़र आता…

हमारे हर मर्ज की दवा होती है माँ – Mother’s Day Poetry Prompt-2
|

हमारे हर मर्ज की दवा होती है माँ – Mother’s Day Poetry Prompt-2

हमारे हर मर्ज की दवा होती है माँ – Mother’s Day Poetry Prompt-2 टूट गया विश्वास मेराभ्रम सभी जाता रहाजो थी दवा मेरे हर मर्ज कीवो माँ चली गयी!माँ कभी मर नही सकतीपर मौत ने छिन लियामाँ मेरी!ममता खो गयीमाँ चली गयीमुट्ठी से फिसलती रेत की तरहमाँ चली गयी बहुत दूर मुझसे !जानती हूँ अब…

जमीन पर जन्नत मिलती है कहाँ |  Mother’s Day Poetry Prompt
|

जमीन पर जन्नत मिलती है कहाँ | Mother’s Day Poetry Prompt

जमीन पर जन्नत मिलती है कहाँ | Mother’s Day Poetry Prompt जमीन पर जन्नत मिलती है कहाँजहां में सच्ची मुहब्बत मिलती है कहाँ,लोगों के दिल में शराफत मिलती है कहाँ,प्यार, मुहब्बत, चाहत, सुनहरा है धोखा ,सभी को जमीन पर जन्नत मिलती है कहाँ। बिना मेहनत के सफलता मिलती है कहाँ,बिना रोयें बच्चे को खाद्य वस्तु…