Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5

Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5 

कोशिश रहे सदा अपनी
दुखे न दिल कभी उनका
जिनकी हम संतान हैं।
समझ न आया है कभी,
कैसे कैसे पाला उन्होंने
जिनकी हम संतान हैं।
-सर्वेश कुमार गुप्ता


koshish rahe sada apanee
dukhe na dil kabhee unaka
jinakee ham santaan hain.
samajh na aaya hai kabhee,
kaise kaise paala unhonne
jinakee ham santaan hain.
-sarvesh kumaar gupta

Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5 
Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5 

धड़कन में छिपाकर तुमने
कुछ ऐसा कर दिया
मैं अंशमात्र हूँ तेरी और तूने
मुझपर सर्वस्व अपर्ण कर दिया!
नौ महीने कोख में रखकर
माँ तुमने अपने खून से सींचा है
हर दुखती तकलीफ से पहले
माँ तुमने मुझको सहेजा हैं!
मैं कैसे कर्ज चुकाऊंगी
उन आती – जाती साँसों का
जो तुमने मेरी खातिर प्रसव पीड़ा में झेला था!
हर रिश्ते से ऊपर एक तुम्हारा रिश्ता है
दुनिया में आने से पहले और उसके बाद भी
माँ तुममें ही तो मेरी दुनिया है
आज तुम्हारी गोद से बढ़कर
न कोई बिस्तर दूजा है
सच माँ तुमसे ही मेरी ऊर्जा है!
-राधा शैलेन्द्र


dhadakan mein chhipaakar tumane
kuchh aisa kar diya
main anshamaatr hoon teree aur toone
mujhapar sarvasv aparn kar diya!
nau maheene kokh mein rakhakar
maan tumane apane khoon se seencha hai
har dukhatee takaleeph se pahale
maan tumane mujhako saheja hain!
main kaise karj chukaoongee
un aatee – jaatee saanson ka
jo tumane meree khaatir prasav peeda mein jhela tha!
har rishte se oopar ek tumhaara rishta hai
duniya mein aane se pahale aur usake baad bhee
maan tumamen hee to meree duniya hai
aaj tumhaaree god se badhakar
na koee bistar dooja hai
sach maan tumase hee meree oorja hai!
-raadha shailendr

FREE Subscription

Subscribe to get our latest contest updates, FREE Quizzes & Get The KHUSHU Annual RNTalks Magazine Free!

    We respect your privacy and shall never spam. Unsubscribe at any time.

    Similar Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.