Mother’s Day हिंदी Poetry Picture Prompt-5

मेरे सर्वस्व की पहचान
माँ मेरी आन है शान है,
मेरे सर्वस्व की पहचान है,
ममता की मंदाकिनी है वो,
हम बच्चों का अभिमान है। ।
-डाॅ राजमती पोखरना सुराना


mere sarvasv kee pahachaan
maan meree aan hai shaan hai,
mere sarvasv kee pahachaan hai,
mamata kee mandaakinee hai vo,
ham bachchon ka abhimaan hai. .
-daaai raajamatee pokharana suraana


मेरे सर्वस्व की पहचान
माँ तुम्हारी आँखों में दिखती है
माँ तुम्हारी ममता में पलती है
माँ तुम्हारी दुआओं में मिलती है
माँ तुम्हारी खामोशी में सुनती है
माँ तुम्हारी हर सांस में महकती है।
-हरमिंदर कौर


mere sarvasv kee pahachaan
maan tumhaaree aankhon mein dikhatee hai
maan tumhaaree mamata mein palatee hai
maan tumhaaree duaon mein milatee hai
maan tumhaaree khaamoshee mein sunatee hai
maan tumhaaree har saans mein mahakatee hai.
-haramindar kaur


मेरे सर्वस्व की पहचान
मेरी मुश्किलो से नही वो अन्जान
बच्चो की जीत में ही उसकी शान
मेरी माँ है मेरा अभिमान।
-दीपाली


mere sarvasv kee pahachaan
meree mushkilo se nahee vo anjaan
bachcho kee jeet mein hee usakee shaan
meree maan hai mera abhimaan.
-deepaalee


मेरे सर्वस्व की पहचान
सिर्फ तुम्हीं से मिलती है
माँ! मेरे अस्तित्व की हर बात
तुम्ही से जुड़ती है!
आईने को खबर नहीं जिस सच्चाई की
वो सूरत भी मेरी तुममें दिखती है
सच माँ!मेरे सर्वस्व की पहचान
सिर्फ तुम्ही में दिखती है!
-राधा शैलेन्द्र


mere sarvasv kee pahachaan
sirph tumheen se milatee hai
maan! mere astitv kee har baat
tumhee se judatee hai!
aaeene ko khabar nahin jis sachchaee kee
vo soorat bhee meree tumamen dikhatee hai
sach maan!mere sarvasv kee pahachaan
sirph tumhee mein dikhatee hai!
-raadha shailendr

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *