नहीं रखना किसी से भी कोई शिकवा | जो कभी मेरा था | किसका रास्ता देख रहे हो

नहीं रखना किसी से भी कोई शिकवा | जो कभी मेरा था | किसका रास्ता देख रहे हो

घुटन न भरो सांसों में
आने दो ना ताजी हवा
सफ़र आसान रखना है
तो सबको माफ करते चलो
अपनी धुन में गुनगुनाते रहो
नहीं रखना किसी से भी कोई शिकवा
-नीति जैन

ghutan na bharo saanson mein
aane do na taajee hava
safar aasaan rakhana hai
to sabako maaph karate chalo
apanee dhun mein gunagunaate raho
nahin rakhana kisee se bhee koee shikava
-neeti jain


नहीं रखना किसी से भी कोई शिकवा
जिन्दगी है यारो तुम्हारी बड़ी क़ीमती,
बिन्दास हो कर तुम जिया करो,
नहीं रखना किसी से भी कोई शिकवा,
हंसते मुस्कराते हुए जिदंगी बीता लिया करो।
न बोले कोई तुम से तो खुद ही आगे चलकर,
प्यार से दो लफ्ज़ बोल भी दिया करो।।
-डाॅ राजमती पोखरना सुराना

nahin rakhana kisee se bhee koee shikava
jindagee hai yaaro tumhaaree badee qeematee,
bindaas ho kar tum jiya karo,
nahin rakhana kisee se bhee koee shikava,
hansate muskaraate hue jidangee beeta liya karo.
na bole koee tum se to khud hee aage chalakar,
pyaar se do laphz bol bhee diya karo..
-dr raajamatee pokharana suraana

ना गिला करता हूँ
ना शिकवा करता हूँ
जो भी मिला ज़िन्दगी से
हँसकर बसर करता हूँ।
-अनीता गुप्ता

नहीं रखना किसी से भी कोई शिकवा | जो कभी मेरा था | किसका रास्ता देख रहे हो
नहीं रखना किसी से भी कोई शिकवा | जो कभी मेरा था | किसका रास्ता देख रहे हो

na gila karata hoon
na shikava karata hoon
jo bhee mila zindagee se
hansakar basar karata hoon.
-aneeta gupta

FREE Subscription

Subscribe to get our latest contest updates, FREE Quizzes & Get The KHUSHU Annual RNTalks Magazine Free!

    We respect your privacy and shall never spam. Unsubscribe at any time.

    Similar Posts

    Leave a Reply

    Your email address will not be published.